भाजपा नेता बोले- समाजविरोधी तत्वों के साथ खड़ी है विपक्षी पार्टी, घायल राम भक्त या पुलिसवालों का हाल जानने कोई नहीं गया

सार

घटना के बाद आम आदमी पार्टी, कांग्रेस, वामपंथी दल और तृणमूल कांग्रेस के नेता अपराधियों का ही मनोबल बढ़ा रहे हैं। वे घटनास्थल पर जा रहे हैं और उन लोगों के घर जा रहे हैं जो इस मामले में अभियुक्त हैं।

ख़बर सुनें

भाजपा ने अपने विपक्षी राजनीतिक पार्टियों पर अपराधियों का मनोबल बढ़ाने का आरोप मढ़ा है। कहा है कि अपराधियों ने जहांगीरपुरी में खुलेआम गोलियां चलाईं, तलवारें लहराईं और पत्थर फेंके। इसके बावजूद विपक्षी नेता उन्हीं पर हमदर्दी जता रहे हैं। दुनिया भर में इस तरह की गैर जिम्मेदार राजनीति कहीं और देखने को नहीं मिलती।

विधानसभा नेता प्रतिपक्ष रामवीर सिंह बिधूड़ी ने विपक्षी नेताओं के रवैये की आलोचना की है। कहा है कि वे खुलेआम समाजविरोधी और राष्ट्रविरोधी ताकतों के साथ खड़े हुए हैं। वोट की राजनीति कर रहे हैं। बिधूड़ी यह भी कहा है कि जहांगीरपुरी में 16 अप्रैल को हनुमान जन्मोत्सव की शोभायात्रा पर हमला किया गया और इस हमले में नौ व्यक्ति घायल हुए, जिनमें से आठ पुलिसकर्मी हैं। इन पुलिसकर्मियों ने अपनी जान हथेली पर लेकर दंगाइयों का सामना किया और कानून व्यवस्था फिर से कायम की। 

घटना के बाद आम आदमी पार्टी, कांग्रेस, वामपंथी दल और तृणमूल कांग्रेस के नेता अपराधियों का ही मनोबल बढ़ा रहे हैं। वे घटनास्थल पर जा रहे हैं और उन लोगों के घर जा रहे हैं जो इस मामले में अभियुक्त हैं। जो बांग्लादेशी, रोहिंग्या और अन्य समाज विरोधी तत्व हैं जिन्होंने हनुमान जयंती शोभायात्रा पर हमला करने का षडयंत्र रचा।

दूसरी तरफ जो हनुमानभक्त तलवार से घायल होकर अस्पताल में हैं या जिन पुलिसकर्मियों ने आपराधिक तत्वों के वार सहे हैं, उन्हें पूछने के लिए विपक्षी दलों में से एक भी नेता नहीं गया।

विस्तार

भाजपा ने अपने विपक्षी राजनीतिक पार्टियों पर अपराधियों का मनोबल बढ़ाने का आरोप मढ़ा है। कहा है कि अपराधियों ने जहांगीरपुरी में खुलेआम गोलियां चलाईं, तलवारें लहराईं और पत्थर फेंके। इसके बावजूद विपक्षी नेता उन्हीं पर हमदर्दी जता रहे हैं। दुनिया भर में इस तरह की गैर जिम्मेदार राजनीति कहीं और देखने को नहीं मिलती।

विधानसभा नेता प्रतिपक्ष रामवीर सिंह बिधूड़ी ने विपक्षी नेताओं के रवैये की आलोचना की है। कहा है कि वे खुलेआम समाजविरोधी और राष्ट्रविरोधी ताकतों के साथ खड़े हुए हैं। वोट की राजनीति कर रहे हैं। बिधूड़ी यह भी कहा है कि जहांगीरपुरी में 16 अप्रैल को हनुमान जन्मोत्सव की शोभायात्रा पर हमला किया गया और इस हमले में नौ व्यक्ति घायल हुए, जिनमें से आठ पुलिसकर्मी हैं। इन पुलिसकर्मियों ने अपनी जान हथेली पर लेकर दंगाइयों का सामना किया और कानून व्यवस्था फिर से कायम की। 

घटना के बाद आम आदमी पार्टी, कांग्रेस, वामपंथी दल और तृणमूल कांग्रेस के नेता अपराधियों का ही मनोबल बढ़ा रहे हैं। वे घटनास्थल पर जा रहे हैं और उन लोगों के घर जा रहे हैं जो इस मामले में अभियुक्त हैं। जो बांग्लादेशी, रोहिंग्या और अन्य समाज विरोधी तत्व हैं जिन्होंने हनुमान जयंती शोभायात्रा पर हमला करने का षडयंत्र रचा।

दूसरी तरफ जो हनुमानभक्त तलवार से घायल होकर अस्पताल में हैं या जिन पुलिसकर्मियों ने आपराधिक तत्वों के वार सहे हैं, उन्हें पूछने के लिए विपक्षी दलों में से एक भी नेता नहीं गया।

Leave a Reply

Your email address will not be published.