दिल्ली में डराने लगा कोरोना: 461 नए मामले मिले, दो की मौत, ढाई महीने बाद बढ़ी संक्रमण दर, 5.33 फीसदी हुई दर्ज

अमर उजाला ब्यूरो, नई दिल्ली
Published by: आकाश दुबे
Updated Sat, 16 Apr 2022 11:01 PM IST

सार

दिल्ली में बीते 24 घंटे में कोरोना के 461 नए मामले मिले हैं और दो मरीजों की मौत हुई है। ढाई महीने बाद संक्रमण दर बढ़ी है। संक्रमण की दर 5.33 फीसदी दर्ज की गई है। इससे पहले 25 फरवरी को 460 नए मामले मिले थे व 15 मार्च को दो मरीजों की मौत हुई थी।

ख़बर सुनें

राजधानी में बीते 24 घंटे में कोरोना के नए मामलों के साथ संक्रमण दर में उछाल आया है। स्वास्थ्य विभाग की ओर से किए गए 8646 टेस्ट में 461 नए मामले मिले हैं व संक्रमण दर पांच फीसदी के आंकड़े को पार करते हुए 5.33 फीसदी दर्ज की गई है। वहीं, दो मरीजों की मौत हुई है। इससे पहले 25 फरवरी को 460 नए मामले मिले थे व एक फरवरी को 5.1 फीसदी संक्रमण दर दर्ज की गई थी और 15 मार्च को दो मरीजों की मौत हुई थी।
 
11 मरीज आईसीयू में और आठ ऑक्जीसन सपोर्ट पर
स्वास्थ्य विभाग के मुताबिक, कोरोना को लेकर अस्पतालों में मरीजों की संख्या में भी इजाफा हुआ है। शनिवार तक अस्पतालों में 59 मरीज भर्ती थे, जबकि एक दिन पहले मरीजों की संख्या 52 थी। हालांकि राहत की बात यह है कि 269 लोगों ने कोरोना को हराया है। होम आइसोलेशन में 772 मरीज उपचाराधीन हैं। इसके अलावा आईसीयू में 11, ऑक्सीजन सपोर्ट पर आठ व वेंटीलेटर पर कोई मरीज नहीं है।

डॉक्टरों का है यह कहना
विभाग के मुताबिक, बीते 24 घंटे में 6638 आरटीपीसीआर व 2008 रैपिड टेस्ट हुए हैं। साथ ही 9508 लोगों ने कोरोना से बचने के लिए टीके को अपनाया है। इसमें से 1724 लोगों ने पहली व 2534 लोगों ने दूसरी खुराक ली है। 15 से 17 वर्ष के आयु के 673 बच्चों ने खुराक ली है। वहीं, एहतियाती खुराक के तौर पर 5250 लोगों ने टीकाकरण करवाया है। सक्रिय मरीजों की संख्या 1262 व कंटेनमेंट जोन की संख्या 652 है। बीते 24 घंटे में 276 लोगों ने कोविड हेल्पलाइन नंबर पर व 1226 लोगों ने एंबुलेंस पर कॉल किया है। राहत की बात यह भी है कि कोविड केयर केंद्र व कोविड स्वास्थ्य केंद्रों पर भी अभी भी मरीजों की संख्या शून्य है। कोरोना के बढ़ते मामलों को लेकर डॉक्टरों का कहना है कि लापरवाही के कारण नए मामलों में उछाल आ रहा है। ऐसे में कोरोना नियमों का पालन करना जरूरी है।

विस्तार

राजधानी में बीते 24 घंटे में कोरोना के नए मामलों के साथ संक्रमण दर में उछाल आया है। स्वास्थ्य विभाग की ओर से किए गए 8646 टेस्ट में 461 नए मामले मिले हैं व संक्रमण दर पांच फीसदी के आंकड़े को पार करते हुए 5.33 फीसदी दर्ज की गई है। वहीं, दो मरीजों की मौत हुई है। इससे पहले 25 फरवरी को 460 नए मामले मिले थे व एक फरवरी को 5.1 फीसदी संक्रमण दर दर्ज की गई थी और 15 मार्च को दो मरीजों की मौत हुई थी।

 

11 मरीज आईसीयू में और आठ ऑक्जीसन सपोर्ट पर

स्वास्थ्य विभाग के मुताबिक, कोरोना को लेकर अस्पतालों में मरीजों की संख्या में भी इजाफा हुआ है। शनिवार तक अस्पतालों में 59 मरीज भर्ती थे, जबकि एक दिन पहले मरीजों की संख्या 52 थी। हालांकि राहत की बात यह है कि 269 लोगों ने कोरोना को हराया है। होम आइसोलेशन में 772 मरीज उपचाराधीन हैं। इसके अलावा आईसीयू में 11, ऑक्सीजन सपोर्ट पर आठ व वेंटीलेटर पर कोई मरीज नहीं है।

डॉक्टरों का है यह कहना

विभाग के मुताबिक, बीते 24 घंटे में 6638 आरटीपीसीआर व 2008 रैपिड टेस्ट हुए हैं। साथ ही 9508 लोगों ने कोरोना से बचने के लिए टीके को अपनाया है। इसमें से 1724 लोगों ने पहली व 2534 लोगों ने दूसरी खुराक ली है। 15 से 17 वर्ष के आयु के 673 बच्चों ने खुराक ली है। वहीं, एहतियाती खुराक के तौर पर 5250 लोगों ने टीकाकरण करवाया है। सक्रिय मरीजों की संख्या 1262 व कंटेनमेंट जोन की संख्या 652 है। बीते 24 घंटे में 276 लोगों ने कोविड हेल्पलाइन नंबर पर व 1226 लोगों ने एंबुलेंस पर कॉल किया है। राहत की बात यह भी है कि कोविड केयर केंद्र व कोविड स्वास्थ्य केंद्रों पर भी अभी भी मरीजों की संख्या शून्य है। कोरोना के बढ़ते मामलों को लेकर डॉक्टरों का कहना है कि लापरवाही के कारण नए मामलों में उछाल आ रहा है। ऐसे में कोरोना नियमों का पालन करना जरूरी है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.