थाने के बाहर आमने-सामने हुए दोनों समुदाय के लोग, जमकर हुई नारेबाजी

अमर उजाला नेटवर्क, नई दिल्ली
Published by: शाहरुख खान
Updated Mon, 18 Apr 2022 07:55 AM IST

सार

जहांगीपुरी थाने के बाहर दोनों समुदाय के लोग आए आमने-सामने आ गए। मुस्लिम महिलाओं का कहना था कि पुलिस उनके परिजनों को जबरदस्ती उठाकर थाने ले आई है। वहीं कुछ हिन्दू संगठनों के नेताओं ने महिलाओं को देखकर लगाए धार्मिक नारे लगाए। 

थाने के बाहर प्रदर्शन करतीं महिलाएं

थाने के बाहर प्रदर्शन करतीं महिलाएं
– फोटो : अमर उजाला

ख़बर सुनें

विस्तार

जहांगीरपुरी थाने के बाहर रविवार शाम को खूब हंगामा हुआ। दरअसल मुस्लिम समुदाय की कुछ महिलाएं थाने के बाहर पहुंच गई। इनका आरोप था कि पुलिस इनके परिजनों को जबरदस्ती उठाकर थाने ले आई है। वहीं दूसरी ओर कुछ हिन्दू संगठन के युवक भी वहां पहुंच गए। आमने-सामने खड़े होकर दोनों ओर से नारेबाजी होने लगी। 

हालात यह हुए कि थाने के गेट पर अंदर से ताला लगा दिया गया। बाद में वरिष्ठ पुलिस अधिकारियों ने लोगों को समझा-बुझाकर वहां से हटाया। महिलाओं को आश्वासन दिया गया कि किसी भी बेकसूर को नहीं पकड़ा जाएगा। इसके बाद महिलाओं को वापस भेज दिया गया।

जानकारी के अनुसार रविवार शाम करीब 4.00 बजे अचानक करीअ 50 महिलाएं जहांगीरपुरी थाने के बाहर इकट्ठा हो गई। वहां पहले से हिंदू संगठनों के लोग इकट्ठा थे। दरअसल थाने में पहले उत्तर-पश्चिम दिल्ली से भाजपा सांसद हसं राज हंस पहुंचे थे। इसके बाद भाजपा प्रदेश अध्यक्ष आदेश गुप्ता व अन्य लोगों को आना था। 

महिलाओं को देखते ही इन लोगों ने धार्मिक नारेबाजी शुरू कर दी। आमने-सामने जाकर दोनों ओर से धार्मिक नारेबाजी होने लगी। करीब पंद्रह मिनट हंगामे के बाद थाने से वरिष्ठ पुलिस अधिकारी निकले। उन्होंने दोनों पक्षों से शांति बनाने की अपील की। बाद में दोनों ओर के लोगों को वापस अपने-अपने घर भेज दिया।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published.