कोरोना संक्रमण कम करने के लिए अभियान चलाएगी दिल्ली सरकार

सार

राजधानी में बीते 24 घंटे में कोरोना के 1204 नए केस मिले हैं, जबकि एक मरीज की मौत हो गई। इस दौरान 863 मरीजों को छुट्टी दे दी गई।

ख़बर सुनें

राजधानी में बढ़ते कोरोना संक्रमण कम करने के लिए दिल्ली सरकार अभियान तेज करेगी। इसके तहत कोविड उपयुक्त व्यवहार को लेकर अभियान चलाया जाएगा। जिसके लिए जिलों में टीमों का गठन किया गया है। साथ ही अब मास्क नहीं लगाने वालों पर भी कड़ी नजर रखी जाएगी।

एक अधिकारी के मुताबिक, राजधानी के सभी 11 जिलों में अब तक उल्लंघन की जांच के लिए 70 से अधिक प्रवर्तन दल बनाए गए हैं। अधिकारी ने कहा कि लोगों को कोविड-उपयुक्त व्यवहार के बारे में जागरूक करने और उन्हें टीका लेने के लिए प्रोत्साहित करने के लिए बड़े पैमाने पर जागरूकता अभियान भी शुरू किए गए हैं।

दक्षिण जिले के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा कि इस महीने की शुरुआत में जुर्माना हटाए जाने के बाद लोग मास्क पहनने के प्रति ढील बरत रहे थे, लेकिन सरकार ने इसे फिर से लागू कर दिया है। अब उल्लंघन करने वालों पर कड़ी निगरानी रखी जाएगी।

1204 लोग संक्रमित, एक मरीज की मौत
राजधानी में बीते 24 घंटे में कोरोना के 1204 नए केस मिले हैं, जबकि एक मरीज की मौत हो गई। इस दौरान 863 मरीजों को छुट्टी दे दी गई।

स्वास्थ्य विभाग के मुताबिक, बीते एक दिन में कोरोना के 25,963 जांच में 4.64 फीसदी मरीज संक्रमित मिले। विभाग के अनुसार, सक्रिय मामलों की संख्या बढ़कर 4508 हो गई है। होम आइसोलेशन में 3190 और अस्पतालों में 114 मरीज भर्ती हैं। वहीं, आईसीयू में 39, ऑक्सीजन सपोर्ट पर 39 और वेंटिलेटर पर चार मरीज भर्ती हैं। बढ़ते मामलों के बीच हॉटस्पॉट की संख्या 796 है। ब्यूरो

30 जून तक बढ़ी डॉक्टरों, कर्मचारियों की सेवाएं
राजधानी में कोरोना संक्रमण की बढ़ती रफ्तार के बीच दिल्ली सरकार ने कोविड ड्यूटी में तैनात अतिरिक्त डॉक्टरों व कर्मचारियों की सेवा को 30 जून तक बढ़ा दिया है।

इस संबंध में सरकार की ओर से आदेश जारी करते हुए कोविड अस्पतालों और जिला स्वास्थ्य केंद्रों में टीकाकरण, परीक्षण, निगरानी और संक्रमण के प्रबंधन के लिए काम पर रखे गए सभी अतिरिक्त डॉक्टरों और कर्मचारियों की सेवाएं जारी रखने का फैसला किया गया है।

स्वास्थ्य और परिवार कल्याण विभाग के उप सचिव अजय बिष्ट ने दिल्ली आपदा प्रबंधन प्राधिकरण (डीडीएमए) के निर्देशों के अनुपालन में इस संबंध में एक आदेश जारी किया है। यह आदेश तब आया है जब दिल्ली में 25 अप्रैल तक सक्रिय मरीजों की संख्या बढ़कर 3,975 हो गई, जो 11 अप्रैल को 601 थी।

आधिकारिक आंकड़ों के अनुसार, अस्पताल में भर्ती होने की दर अब तक कम रही है, जो कुल सक्रिय मामलों के तीन फीसदी से भी कम है। इस बीच कंटेनमेंट जोन की संख्या कमोबेश स्थिर बनी हुई है, जिसमें कोई उल्लेखनीय वृद्धि नहीं देखी गई है। कंटेनमेंट जोन की संख्या 11 अप्रैल को 741 से घटकर 24 अप्रैल को 656 हो गई थी।

दिल्ली में संक्रमण दर तेजी से बढ़ रही है। एक दिन पहले ही संक्रमण दर छह फीसदी आंकड़े को पार करते हुए 6.4 फीसदी के करीब रही थी। इससे पहले 30 जनवरी को 6.4 फीसदी संक्रमण दर थी। वहीं, दिल्ली में कोरोना संक्रमण बढ़ता देख सरकार भी सक्रिय हो गई है।

विस्तार

राजधानी में बढ़ते कोरोना संक्रमण कम करने के लिए दिल्ली सरकार अभियान तेज करेगी। इसके तहत कोविड उपयुक्त व्यवहार को लेकर अभियान चलाया जाएगा। जिसके लिए जिलों में टीमों का गठन किया गया है। साथ ही अब मास्क नहीं लगाने वालों पर भी कड़ी नजर रखी जाएगी।

एक अधिकारी के मुताबिक, राजधानी के सभी 11 जिलों में अब तक उल्लंघन की जांच के लिए 70 से अधिक प्रवर्तन दल बनाए गए हैं। अधिकारी ने कहा कि लोगों को कोविड-उपयुक्त व्यवहार के बारे में जागरूक करने और उन्हें टीका लेने के लिए प्रोत्साहित करने के लिए बड़े पैमाने पर जागरूकता अभियान भी शुरू किए गए हैं।

दक्षिण जिले के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा कि इस महीने की शुरुआत में जुर्माना हटाए जाने के बाद लोग मास्क पहनने के प्रति ढील बरत रहे थे, लेकिन सरकार ने इसे फिर से लागू कर दिया है। अब उल्लंघन करने वालों पर कड़ी निगरानी रखी जाएगी।

1204 लोग संक्रमित, एक मरीज की मौत

राजधानी में बीते 24 घंटे में कोरोना के 1204 नए केस मिले हैं, जबकि एक मरीज की मौत हो गई। इस दौरान 863 मरीजों को छुट्टी दे दी गई।

स्वास्थ्य विभाग के मुताबिक, बीते एक दिन में कोरोना के 25,963 जांच में 4.64 फीसदी मरीज संक्रमित मिले। विभाग के अनुसार, सक्रिय मामलों की संख्या बढ़कर 4508 हो गई है। होम आइसोलेशन में 3190 और अस्पतालों में 114 मरीज भर्ती हैं। वहीं, आईसीयू में 39, ऑक्सीजन सपोर्ट पर 39 और वेंटिलेटर पर चार मरीज भर्ती हैं। बढ़ते मामलों के बीच हॉटस्पॉट की संख्या 796 है। ब्यूरो

30 जून तक बढ़ी डॉक्टरों, कर्मचारियों की सेवाएं

राजधानी में कोरोना संक्रमण की बढ़ती रफ्तार के बीच दिल्ली सरकार ने कोविड ड्यूटी में तैनात अतिरिक्त डॉक्टरों व कर्मचारियों की सेवा को 30 जून तक बढ़ा दिया है।

इस संबंध में सरकार की ओर से आदेश जारी करते हुए कोविड अस्पतालों और जिला स्वास्थ्य केंद्रों में टीकाकरण, परीक्षण, निगरानी और संक्रमण के प्रबंधन के लिए काम पर रखे गए सभी अतिरिक्त डॉक्टरों और कर्मचारियों की सेवाएं जारी रखने का फैसला किया गया है।

स्वास्थ्य और परिवार कल्याण विभाग के उप सचिव अजय बिष्ट ने दिल्ली आपदा प्रबंधन प्राधिकरण (डीडीएमए) के निर्देशों के अनुपालन में इस संबंध में एक आदेश जारी किया है। यह आदेश तब आया है जब दिल्ली में 25 अप्रैल तक सक्रिय मरीजों की संख्या बढ़कर 3,975 हो गई, जो 11 अप्रैल को 601 थी।

आधिकारिक आंकड़ों के अनुसार, अस्पताल में भर्ती होने की दर अब तक कम रही है, जो कुल सक्रिय मामलों के तीन फीसदी से भी कम है। इस बीच कंटेनमेंट जोन की संख्या कमोबेश स्थिर बनी हुई है, जिसमें कोई उल्लेखनीय वृद्धि नहीं देखी गई है। कंटेनमेंट जोन की संख्या 11 अप्रैल को 741 से घटकर 24 अप्रैल को 656 हो गई थी।

दिल्ली में संक्रमण दर तेजी से बढ़ रही है। एक दिन पहले ही संक्रमण दर छह फीसदी आंकड़े को पार करते हुए 6.4 फीसदी के करीब रही थी। इससे पहले 30 जनवरी को 6.4 फीसदी संक्रमण दर थी। वहीं, दिल्ली में कोरोना संक्रमण बढ़ता देख सरकार भी सक्रिय हो गई है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.