कीव में 900 से ज्यादा लोगों के शव मिले, रूस ने नए सिरे से हमले की तैयारी तेज की । Russia Ukraine War News Over 900 civilians dead around Kyiv, Russia vows new attacks

russia ukraine war- India TV Hindi
Image Source : PTI
Volunteers load bodies of civilians killed

कीव: रूसी क्षेत्र में यूक्रेन के लगातार जारी हमलों और काला सागर में रूसी युद्धपोत के क्षतिग्रस्त होकर डूबने से भड़के मॉस्को ने कीव पर नए सिरे से मिसाइल हमले करने की धमकी दी है। वहीं, यूक्रेनी अधिकारियों ने कहा है कि राजधानी के बाहरी इलाकों में 900 से अधिक आम लोगों के शव मिले हैं। पुलिस ने बताया कि इनमें से अधिकांश लोगों को गोली मारी गई थी। रूसी सेना ने पूर्वी यूक्रेन में नए सिरे से हमले की तैयारी तेज कर दी है, जबकि दक्षिणी बंदरगाह शहर मारियुपोल में लड़ाई जारी है, जहां स्थानीय लोगों ने रूसी सैनिकों को शवों को खोदकर निकालते देखे जाने की सूचना दी है।

क्षेत्रीय गवर्नर ओलेह सिनेहुबोव के अनुसार, उत्तर-पूर्वी शहर खारकीव में एक आवासीय इलाके पर गोलाबारी में सात महीने के एक शिशु सहित सात लोगों की मौत हो गई और 34 अन्य घायल हो गए। यूक्रेन की राजधानी कीव के महापौर विताली क्लित्श्चको ने एक ऑनलाइन पोस्ट में बताया कि राजधानी के पूर्वी जिले दारनित्स्की की शनिवार को घेराबंदी की गई और वहां ‘‘धमाके’’ हुए। उन्होंने बताया कि बचावकर्मी व चिकित्सा कर्मी मौके पर मौजूद हैं और पीड़ितों की जानकारी बाद में दी जाएगी। उन्होंने निवासियों से अपील की है कि वे सायरन की आवाज पर ध्यान दें और जो लोग राजधानी छोड़ चुके हैं, वे सुरक्षा कारणों से अभी न लौटें।

राजधानी के क्षेत्रीय पुलिस बल के प्रमुख एंड्री नेबितोव ने कहा कि कीव के आसपास शवों को सड़कों पर छोड़ दिया गया या अस्थायी रूप से दफनाया दिया गया था। उन्होंने पुलिस के आंकड़ों का हवाला देते हुए कहा कि 95 प्रतिशत लोगों की मौत गोली लगने से हुई है। नेबितोव ने कहा, ‘‘हमें लगता है कि रूसी कब्जे के दौरान इन लोगों को यूं ही अकारण गोली मार दी गई।’’ उन्होंने कहा कि हर दिन मलबे के नीचे और सामूहिक कब्रों से शव मिल रहे हैं तथा सबसे ज्यादा 350 से अधिक शव बुचा में बरामद हुए हैं। नेबितोव के अनुसार, मानवाधिकार सक्रियतावादियों ने रूसी कब्जे के बीच कीव के इस उपनगर में इकट्ठा किये गये और शवों को दफनाया। उन्होंने आरोप लगाया कि रूसी सैनिकों ने यूक्रेन समर्थक विचारों को व्यक्त करने वाले लोगों को ‘‘निशाना’’ बनाया है।

यूक्रेन के राष्ट्रपति वोलोदिमीर जेलेंस्की ने रूसी सैनिकों पर दक्षिण में खेरसॉन और जापोरिजिया के कुछ हिस्सों पर कब्जा करने तथा यूक्रेन की सेना व सरकार में सेवाएं देने वाले लोगों को निशाना बनाने का आरोप लगाया। जेलेंस्की ने शुक्रवार रात राष्ट्र के नाम दिए अपने वीडियो संबोधन में कहा, ‘‘कब्जा करने वालों को लगता है कि इससे उनके लिए संबंधित क्षेत्र को नियंत्रित करना आसान हो जाएगा, लेकिन वे गलत हैं। वे खुद को बेवकूफ बना रहे हैं।’’ उन्होंने कहा, ‘‘रूस की समस्या यह है कि उसे पूरी यूक्रेनी जनता ने खारिज कर दिया है और वह उसे कभी भी स्वीकार नहीं करेगी। रूस ने यूक्रेन को हमेशा के लिए खो दिया है।’’

जेलेंस्की ने सीएनएन को दिए साक्षात्कार में कहा कि अधिकारियों का मानना है कि युद्ध में 2,500 से 3000 यूक्रेनियाई सैनिकों की मौत हुई है। उन्होंने कहा कि करीब 10 हजार अन्य घायल हुए हैं और यह कहना मुश्किल है कि उनमें से कितने जिंदा रहेंगे। रूसी अधिकारियों ने यूक्रेन पर सात लोगों को घायल करने और यूक्रेन की सीमा से सटे ब्रांस्क में हवाई हमलों के साथ लगभग 100 आवासीय भवनों को नुकसान पहुंचाने का आरोप लगाया है। इसके बाद कीव पर हमले और तेज होने की आशंका बढ़ गई है। रूस के एक अन्य सीमावर्ती क्षेत्र के अधिकारियों ने भी बृहस्पतिवार को यूक्रेन की ओर से गोलाबारी की सूचना दी।

रूसी रक्षा मंत्रालय के प्रवक्ता इगोर कोनाशेनको ने कहा, ‘‘ कीव पर दागी जाने वाली मिसाइल की संख्या और क्षमता बढ़ाई जाएगी और यह कीव के राष्ट्रवादी शासन द्वारा रूसी क्षेत्र पर आतंकवादी हमले के जवाब में होगा।’’ उन्होंने कीव पर नए सिरे से हमले करने की धमकी देते हुए कहा कि रूस ने कीव में मिसाइल प्रणालियों की मरम्मत और उत्पादन केंद्र को नष्ट करने के लिए मिसाइल का इस्तेमाल किया जाएगा। वहीं, यूक्रेन के सरकारी हथियार निर्माता उक्रोबोरोनप्रोम ने कहा कि रूसी सेना ने कीव के जुलियानी हवाईअड्डे के पास स्थित विजार संयंत्र में मिसाइल कार्यशालाओं में से एक पर हमला किया। यूक्रेन के अधिकारियों ने रूस में हमले के लक्ष्य की पुष्टि नहीं की है और रिपोर्टों को स्वतंत्र रूप से सत्यापित नहीं किया जा सका है। हालांकि, उन्होंने कहा कि सेना ने मिसाइलों के साथ एक प्रमुख रूसी युद्धपोत पर हमला किया था।

एक वरिष्ठ अमेरिकी रक्षा अधिकारी ने इस दावे का समर्थन करते हुए कहा कि अमेरिका अब मानता है कि रूसी पोत को कम से कम एक नेप्च्यून जंगी जहाज रोधी मिसाइल और दो मिसाइलों से मार गिराया गया था। रूस का मोस्कवा युद्धपोत बृहस्पतिवार को बंदरगाह पर ले जाने के दौरान भारी नुकसान के कारण डूब गया था। रूस ने हालांकि, इस पर किसी भी हमले को स्वीकार नहीं किया है। उसने सिर्फ यही कहा है कि आग लगने के कारण जहाज पर मौजूद गोला-बारूद में विस्फोट हो गया। मोस्कवा का नष्ट होना यूक्रेन के लिए एक महत्वपूर्ण जीत और रूस के लिए प्रतीकात्मक हार माना जा रहा है।

रूस द्वारा हवाई हमले की चेतावनी भी कीव के लोगों को शुक्रवार को हल्की धूप का आनंद लेने से नहीं रोक सका क्योंकि सप्ताहांत आ रहा है। सामान्य दिनों से अधिक लोग सड़कों पर आए, वे अपने पालतू कुत्ते टहला रहे थे, इलेक्ट्रिक स्कूटर चला रहे थे और एक दूसरे का हाथ पकड़ कर घूम रहे थे। कीव में यह दिनचर्या रूस द्वारा यूक्रेन की राजधानी पर कब्जा करने में असफल होने और अपना पूरा ध्यान पूर्वी यूक्रेन में लगाने के बाद देखने को मिली है। पर, वे अपने पीछे युद्ध अपराध के निशान छोड़ गए हैं। वहीं, फिर से बमबारी की चेतावनी का अभिप्राय एक बार फिर सायरन की आवाजों और डर के माहौल में सबवे में रात बिताने की वापसी के तौर पर देखने को मिल सकता है।

(इनपुट- एजेंसी)

Leave a Reply

Your email address will not be published.