आम आदमी पार्टी ने घटना के लिए भाजपा को जिम्मेदार ठहराया

डिजिटल ब्यूरो, अमर उजाला, नई दिल्ली
Published by: Harendra Chaudhary
Updated Tue, 19 Apr 2022 07:52 PM IST

सार

आम आदमी पार्टी नेता सौरभ भारद्वाज ने एक प्रेस कांफ्रेंस में कहा कि उनकी पार्टी ने पूरी दिल्ली में अलग-अलग स्थानों पर शोभायात्राएं निकाली थीं, लेकिन किसी एक भी जगह पर किसी प्रकार की हिंसा नहीं हुई, जबकि भाजपा ने जिन-जिन जगहों पर शोभायात्राएं निकालीं, उन सभी जगहों पर हालात खराब हुए…

ख़बर सुनें

आम आदमी पार्टी ने भाजपा को जहांगीरपुरी सांप्रदायिक हिंसा के लिए जिम्मेदार ठहराया है। आम आदमी पार्टी ने आरोप लगाया है कि भारतीय जनता पार्टी असामाजिक तत्त्वों को सम्मानित करने का काम करती है, यही कारण है कि उसके कार्यकर्ता इस तरह की हिंसक गतिविधियों में लिप्त रहते हैं। मुख्यमंत्री आवास पर असामाजिक कार्य करने वाले कार्यकर्ताओं को भाजपा ने सम्मानित किया था, उसी का परिणाम है कि उसके उत्साहित कार्यकर्ताओं ने जहांगीरपुरी इलाके में हिंसा को अंजाम दिया।

आम आदमी पार्टी नेता सौरभ भारद्वाज ने एक प्रेस कांफ्रेंस में कहा कि उनकी पार्टी ने पूरी दिल्ली में अलग-अलग स्थानों पर शोभायात्राएं निकाली थीं, लेकिन किसी एक भी जगह पर किसी प्रकार की हिंसा नहीं हुई, जबकि भाजपा ने जिन-जिन जगहों पर शोभायात्राएं निकालीं, उन सभी जगहों पर हालात खराब हुए। उन्होंने आरोप लगाया कि इन हिंसक घटनाओं के पीछे भाजपा या उसके समर्थित संगठनों के लोग जुड़े हुए हैं। पुलिस की जांच में यह सब बातें सामने आ जाएंगी।

उन्होंने कहा कि जहांगीरपुरी हिंसा के मामले की जांच होने के बाद यह पता चल जाएगा कि इसमें शामिल सभी लोग भाजपा से जुड़े हुए हैं। उन्होंने कहा कि इन घटनाओं के सामने आने के बाद जनता को भाजपा की सच्चाई पता चल गई है। वह केवल चुनाव के लिए सांप्रदायिक ध्रुवीकरण करा रही है। उन्होंने कहा कि भाजपा को अपना नाम भारतीय जनता पार्टी से बदलकर ‘भारतीय गुंडा पार्टी’ कर लेना चाहिए।

आम आदमी पार्टी की विधायक आतिशी मार्लेना ने कहा कि कुछ दिन पूर्व सीएम आवास पर भाजपा के युवा मोर्चे के कार्यकर्ताओं ने हिंसक घटनाओं को अंजाम दिया था। मुख्यमंत्री आवास के बूम बैरियर तोड़ डाले गए थे और वहां लगे सीसीटीवी कैमरों को तोड़ दिया गया था। इसके लिए पुलिस ने भाजपा के ही कार्यकर्ताओं को हिरासत में लिया था। लेकिन जब वे छूट कर बाहर आए तब भाजपा ने उन्हें सम्मानित करने का काम किया और उसी का परिणाम हुआ कि उत्साहित भाजपा कार्यकर्ता अब जगह-जगह पर हिंसा को बढ़ावा दे रहे हैं।

विस्तार

आम आदमी पार्टी ने भाजपा को जहांगीरपुरी सांप्रदायिक हिंसा के लिए जिम्मेदार ठहराया है। आम आदमी पार्टी ने आरोप लगाया है कि भारतीय जनता पार्टी असामाजिक तत्त्वों को सम्मानित करने का काम करती है, यही कारण है कि उसके कार्यकर्ता इस तरह की हिंसक गतिविधियों में लिप्त रहते हैं। मुख्यमंत्री आवास पर असामाजिक कार्य करने वाले कार्यकर्ताओं को भाजपा ने सम्मानित किया था, उसी का परिणाम है कि उसके उत्साहित कार्यकर्ताओं ने जहांगीरपुरी इलाके में हिंसा को अंजाम दिया।

आम आदमी पार्टी नेता सौरभ भारद्वाज ने एक प्रेस कांफ्रेंस में कहा कि उनकी पार्टी ने पूरी दिल्ली में अलग-अलग स्थानों पर शोभायात्राएं निकाली थीं, लेकिन किसी एक भी जगह पर किसी प्रकार की हिंसा नहीं हुई, जबकि भाजपा ने जिन-जिन जगहों पर शोभायात्राएं निकालीं, उन सभी जगहों पर हालात खराब हुए। उन्होंने आरोप लगाया कि इन हिंसक घटनाओं के पीछे भाजपा या उसके समर्थित संगठनों के लोग जुड़े हुए हैं। पुलिस की जांच में यह सब बातें सामने आ जाएंगी।

उन्होंने कहा कि जहांगीरपुरी हिंसा के मामले की जांच होने के बाद यह पता चल जाएगा कि इसमें शामिल सभी लोग भाजपा से जुड़े हुए हैं। उन्होंने कहा कि इन घटनाओं के सामने आने के बाद जनता को भाजपा की सच्चाई पता चल गई है। वह केवल चुनाव के लिए सांप्रदायिक ध्रुवीकरण करा रही है। उन्होंने कहा कि भाजपा को अपना नाम भारतीय जनता पार्टी से बदलकर ‘भारतीय गुंडा पार्टी’ कर लेना चाहिए।

आम आदमी पार्टी की विधायक आतिशी मार्लेना ने कहा कि कुछ दिन पूर्व सीएम आवास पर भाजपा के युवा मोर्चे के कार्यकर्ताओं ने हिंसक घटनाओं को अंजाम दिया था। मुख्यमंत्री आवास के बूम बैरियर तोड़ डाले गए थे और वहां लगे सीसीटीवी कैमरों को तोड़ दिया गया था। इसके लिए पुलिस ने भाजपा के ही कार्यकर्ताओं को हिरासत में लिया था। लेकिन जब वे छूट कर बाहर आए तब भाजपा ने उन्हें सम्मानित करने का काम किया और उसी का परिणाम हुआ कि उत्साहित भाजपा कार्यकर्ता अब जगह-जगह पर हिंसा को बढ़ावा दे रहे हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.